उतरौला (बलरामपुर) : मंगलवार दोपहर में अज्ञात कारणों से लगी आग से उतरौला ग्रामीण के गोसाईंजोत में एक दर्जन फूस के मकान पूरी तरह जल गये। आग में एक बकरा व दस मुर्गियां भी जल कर मर गईं। ग्रामीणों ने कड़ी मेहनत कर आग को गांंव में फैलने से रोका। आग बुझाने के प्रयास में गांव के अजूबा नाथ का दायां हाथ झुलस गया। सूचना पाकर पहुंचे फायरकर्मियों ने आग पर काबू पाया। मजदूरी कर दैनिक रोजी कमाने वाले इन पीड़ितों के परिजनों के पास तन पर पहने कपड़ों के सिवाय कुछ भी नही बचा है। मौके पर पहुंचे लेखपाल ब्रह्मा लाल व राजस्व निरीक्षक रुदल प्रसाद ने क्षति का आकलन किया। दोपहर में महेंद्र नाथ के घर से शुरू हुई आग की लपटों के बाद तेज पछुआ हवा ने रामकुमार, आनंद नाथ, छांगुर नाथ, कलुआ नाथ, मुकद्दर नाथ, भोला, देशराज, हीरो नाथ, कमलनाथ, बसंत कुमार, कुशनाथ व भरतनाथ के घरों को पूरी तरह बरबाद कर दिया। स्थानीय लोगों ने पीड़ितों को खाद्य सामग्री व नगद आर्थिक सहायता प्रदान की। रामदयाल यादव, अफसर अली, राकेश यादव, राजू ने मौके पर पहुंच कर पीड़ितों को सांत्वना दी। तहसीलदार रोहित मौर्य ने बताया कि रिपोर्ट मिलते ही पीड़ितों को अनुमन्य आर्थिक सहायता दिलाई जाएगी। प्रभावित परिवारों के लिए खाद्यान्न की व्यवस्था कराने के लिए कोटेदार को निर्देश दिया जाएगा।

ब्यूरो रिपोर्ट/संतोष गुप्ता जिला बलरामपुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here