मेरे प्रिय साथियों
आप सभी जानते हैं कि आंशिक लॉक डाउन आगामी 10 मई 2021 तक बढ़ा दिया गया है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों की वह घनघोर आपा-धापी अब समाप्त हो चुकी है, जिसमें आप ने और हम ने दिन-रात कठिन परिश्रम करते हुए क़ानून-व्यवस्था और पुलिस की निष्पक्ष छबि को अक्षुण्ण बनाए रखा है। यह हम सब की एक बहुत बड़ी उपलब्धि है; और इसलिए आप सभी बधाई व प्रशस्ति पत्र के वास्तविक हक़दार हैं।चूँकि समस्त पुलिस बल अब चुनावों से फ़्री हो चुका है तो उसे अब आंशिक लॉक डाउन को प्रभावी रूप से लागू कराने हेतु आदेशित किया गया है।लोगों को इस भयावह महामारी से बचाने के मक़सद से हमें कंटेनमेंट ज़ोन में सख़्ती करनी होगी। बिना मास्क वालों को मास्क देना होगा।अराजक, शरारती, लापरवाह, दबंग और दुर्दांत लोगों पर हर तरह से नकेल कस कर उनको क़ाबू में रखना है। लेकिन इसके साथ यह भी ध्यान रहे कि ग़रीबों, असहायों, रोगियों, वृद्धों, दिव्यांगों, महिलाओं और बच्चों पर क़तई सख़्ती ना की जाए। ये 7 कैटेगरी के लोग तो वास्तव में हम सबकी सहानुभूति के पात्र हैं। यूँ तो समस्त जनमानस के साथ यथोचित व्यवहार होना चाहिए, परंतु इन 7 कैटेगरी के लोगों से तो मित्रवत्, मधुर एवं मानवीय व्यवहार किये जाने की सख़्त ज़रूरत है; साथ ही, इनकी यथासंभव मदद भी की जाए। ध्यान रहे कि ऐसा कर के हम इन पर कोई एहसान नहीं करेंगे; बल्कि, यह तो हमारा परम कर्तव्य है।एक बात और, आप और हम पुलिस वाले और हमारे परिवारी जन जितना त्याग कर रहे हैं, जो वलिदान दे रहे हैं, उसे अधिकांश लोग शायद अभी समझ नहीं पाएँगे। *पर, जब भी ईमानदारी से प्रामाणिक इतिहास लिखा जाएगा, हमारा त्याग स्वर्णाक्षरों में अंकित होगा,यह मेरी अंतरात्मा की आवाज़ है।अंत में कहना चाहूँगा कि डर से बड़ा कोई वायरस नहीं है, हिम्मत से बड़ी कोई वैक्सीन नहीं है। कृपया इस कोरोना वायरस के आक्रमण को सही समय पर पहचान कर इस पर सही दवाओं का प्रहार शुरू कर अपनी व अपने परिवार की हिफ़ाज़त करें। हम सबकी सर्वोच्च प्राथमिकता तो यही होनी चाहिए कि दवा और हॉस्पिटल से बचे रहें, लोगों को बचाए रखें !!डरें नहीं, हिम्मत ना हारें। हम सभी जीतेंगे, यह मेरा दृढ़ विश्वास है। आप सपरिवार पूर्ण स्वस्थ रहें, ख़ुश रहें…धन्यवाद! जयहिंद!

अजय कुमार। पुलिस अधीक्षक, फ़िरोज़ाबाद।

आज का अपराध न्यूज़
ब्यूरो रिपोर्ट/फ़िरोज़ाबाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here