गोरखपुर(5अक्टूबर)।आज कर्मचारी शिक्षा अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच के प्रदेश नेतृत्व की आवाज सिंचाई विभाग के नलकूप प्रांगण से शिक्षक कर्मचारियों का विशाल बाइक रैली निकाली गई इस रैली में हजारों कर्मचारी शिक्षक कर्मचारी एवं उपस्थित थे।आज की बाइक रैली में शिक्षक कर्मचारियों में सरकार के प्रति आक्रोश दिखा।इस रैली का शुभारंभ करते हुए अधिकार मंच के जिलाध्यक्ष राजेश दूबे।ने कहा कि यह सरकार शिक्षक कर्मचारियों की मांगों के प्रति विगत 4 साल से उदासीन रही है।अनेक बार अनेक बिंदुओं पर सहमति के बाद भी शासनादेश जारी नहीं किया गया और कभी वाजिब मांगों को भी नहीं माना गया। शिक्षक कर्मचारियों ने अब हुंकार भर लिया है एवं सरकार के अड़ियल रवैए का जवाब देने का मन बना लिया है और विधानसभा चुनाव के पहले यदि सरकार की सरकार ने शिक्षक कर्मचारियों के मांगों को नहीं माना तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।आज के जूलूस में सम्मिलित शिक्षक कर्मचारी जनता की सुविधा को देखते हुए अनुशासन बंद होकर सड़क के किनारे से चल रहे थे शिक्षक कर्मचारियों का कहना था कि हम भी इसी जनता के घर के बीच के हैं, लेकिन यह सरकार हमारे मांगों के प्रति पूरी तरह अड़ियल रवैया अपनाए हुए हैं।मंच के संरक्षक भक्तराज राम त्रिपाठी एवं रुपेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि विगत 4 वर्षों से हमारे हित के एक भी शासनादेश नहीं जारी किया गया और मजबूर होकर हमें आंदोलन का रास्ता अपनाना है।इस अवसर पर संबोधित करते हुवे प्रधान महासचिव राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि सरकार ने यदि हमारी मांग नहीं पूरा किया गया तो 28 अक्टूबर को पूरे जिले के कर्मचारी शिक्षक कार्य ठप कर जिला मुख्यालय पर धरना देंगे।इस जुलूस में हजारों शिक्षक शिक्षिकाएं बरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रीधर मिश्रा,दिग्विजय नाथ पाण्डेय एवं मीडिया प्रभारी ज्ञानेन्द्र ओझा के नेतृत्व में देख लो सरकार तेरा-ऐस्मा हमने तोड़ दिया, पुरानी पेंशन बहाल करो याचना नहीं अब रण होगा- संघर्ष महा भीषण होगा आदि नारा लगाते हुवे चल रहे थे।आज के बाइक जुलूस में उ.प्र.प्राथमिक शिक्षक संघ,यू.पी.मिनीस्ट्रियल एसोसिएशन,लोक निर्माण विभाग,माध्यमिक शिक्षक संघ,यू.पी.पीडब्ल्यूडी नियमित कर्मचारी संघ,लोक निर्माण विभाग,औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान,कोषागार, आंगनबाड़ी, बालविकास पुष्टाहार विभाग के सर्व श्री राजेश धर दूबे,राजेंद्र शर्मा, दिग्विजय नाथ पाण्डेय, भक्तराज राम त्रिपाठी, रुपेश कुमार श्रीवास्तव,श्रीधर मिश्रा,समीर पाण्डेय,श्याम नारायन सिंह,सुधांशु मोहन सिंह,हरेन्द्र राय,ज्ञानेन्द्र ओझा,अमरनाथ यादव,ज्ञानेश राय,राजेश पाण्डेय,अनिल पाण्डेय,राजेश मिश्रा,गोविंद राय,युगेश शुक्ला,अनिल चंद,ब्रजेश श्रीवास्तव,जन्मेजय पाण्डेय,राकेश दूबे,सर्वश्वर तिवारी,जय प्रकाश मद्देशिया,राकेश राय, डा.सी.बी.तिवारी,नागेन्द्र पाल,विनोद राय,अरविंद चंद,बृजेन्द्र राय,सुमंत सिंह,धर्मेंद्र सिंह,इजहार अली,महेन्द्र चतुर्वेदी, योगेंद्र शर्मा,विनीता सिंह,आशुतोष मिश्रा,गीता सिंह,सत्यावती दूबे, रेनूबाला यादव,आस्मां एखलाक,आनन्द सिंह,मनीष श्रीवास्तव,वागीश कुमार सिंह, जितेंद्र सिंह, डा.बृजेश मणि त्रिपाठी,पूनम सिंह,नवनीत राय,शैलेन्द्र पाठक,राजेश सिंह,अच्युतानंद तिवारी,ममता सिंह,शीला पाण्डेय,अरविंद नेता,शिवेन्द्र उपाध्याय सहित अनेक अधिकार मंच के सदस्य शामिल थे।

आज का अपराध न्यूज़
रिपोर्ट/आशीष भट्ट ज़िला गोरखपुर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here