बस्ती 04 अप्रैल 2021 सू०वि०, कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने सभी नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायत, ग्राम पंचायतों में निगरानी समितियों को सक्रिय करने का निर्देश दिया है। विकास भवन स्थित एकीकृत कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देश दिया कि निगरानी समितियां विशेष रुप से बाहर से आए हुए लोगों पर नजर रखेंगी तथा कोविड-19 से बचाव के लिए प्रोटोकॉल का पालन कराएंगी। उन्होंने निर्देश दिया है कि सभी निगरानी समितिया इस दौरान इंफ्रारेड थर्मामीटर तथा पल्स ऑक्सीमीटर का प्रयोग करेंगे। उन्होंने प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह सभी निगरानी समितियों के पास इन दोनों मशीनों की उपलब्धता सुनिश्चित कराएंगे।
उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्र की निगरानी समितियों में सिविल डिफेंस, स्थानीय स्वयंसेवी संस्थाओं के लोगों को शामिल किया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र की निगरानी समितियों में गवर्नमेंट ऑफिशियल, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्री, युवक मंगल दल, चैकीदार आदि को शामिल किया जाएगा। आशा एवं आंगनवाडी कार्यकत्री पूर्व की भांति होम आइसोलेटेड कोविड-19 के मरीजों की नियमित निगरानी करेंगी तथा उनकी स्थिति की रिपोर्ट संबंधित एमओआईसी को उपलब्ध कराएंगी। इसके अलावा गांव में बाहर से आए हुए व्यक्तियों के बारे में ब्लॉक एवं तहसील को सूचित करेंगे। एकीकृत कमांड सेंटर से भी उनके मोबाइल नंबर पर कॉल करके उनकी स्थिति की समीक्षा की जाएगी तथा उन्हें आवश्यक सुझाव दिया जाएगा।
होम आइसोलेशन के लिए पल्स ऑक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मलस्केनर, मास्क, ग्लोब्स, एन95 मास्क, सैनिटाइजर, हाइपोक्लोराइड सालूशन, घर में नहाने और बाथरूम के लिए पूरा नया सामान, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गिलोय घनवटी, अश्वगंधा कैप्सूल, च्यवनप्राश, विटामिन सी, मल्टीविटामिन गोली के साथ आरोग्य सेतु एप और होम आइसोलेशन एप अपलोड करना है। फोन कभी स्विच ऑफ नहीं करना है।उन्होंने निर्देश दिया है कि निगरानी समितियां यह भी सुनिश्चित करेंगी कि होम आइसोलेटेड व्यक्ति बाहर इधर उधर न घूमे। वर्तमान समय में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव प्रक्रिया संचालित हो रही है। ऐसी स्थिति में उनका बाहर घूमना-फिरना अन्य लोगों के लिए घातक हो सकता है। उन्होंने होम आइसोलेटेड व्यक्तियों से प्रतिदिन फीडबैक लेने का भी निर्देश दिया है।मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोविड-19 के 30 मरीजों की स्थिति की समीक्षा करते हुए उन्होंने सीएमएस डाॅ0 जीएम शुक्ला को निर्देश दिया है कि उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण किया जाए। 1-2 मरीजों ने भोजन विलंब से मिलने की सूचना कंट्रोल रूम को दिया है। सुनिश्चित करें कि सभी मरीजों को समय से भोजन उपलब्ध हो जाए। उन्होंने कोविड-19 के नये मरीजों को फैसिलिटी एलॉटमेंट की समीक्षा किया। उन्होंने आरटीपीसीआर जांच बढ़ाने का निर्देश दिया। साथ ही कोविड-19 का टीकाकरण में तेजी लाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने समय से टीके की व्यवस्था करने के लिए एसीएमओ डॉ0 फखरेयार हुसैन को निर्देशित किया है।डॉक्टर फखरेयार हुसैन ने बताया कि वर्तमान में 2900 वैक्सीन जिले में है जिससे सोमवार को टीकाकरण कराया जाएगा। इस बीच में और टीका की व्यवस्था कर ली जाएगी। नगर क्षेत्र प्रभारी डॉ0 एके कुशवाहा ने बताया कि बाहरी प्रदेशों से ट्रेन द्वारा कुल 55 संक्रमित व्यक्ति मिले हैं, जिसमें से 17 बस्ती तथा 38 व्यक्ति सिद्धार्थनगर और संतकबीरनगर के हैं। सभी की कान्टैक्ट टेªसिंग करा कर उनकी जांच कराई जा रही है।बैठक में सीडीओ राजेश प्रजापति, सीएमओ डॉ0 अनूप कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नंदकिशोर कलाल, उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा, नीरज प्रसाद पटेल, आनंद श्रीनेत, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, कृषि अधिकारी संजेश श्रीवास्तव, डॉ0 फखरेयार हुसैन, आलोक राय, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी तथा खंड विकास अधिकारीगण उपस्थित रहे।

रिपोर्टर-कर्मचंद्र यादव बस्ती यूपी
9565237687

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here