ज़िला बस्ती/जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जिला पंचायत के प्रशासक का कार्यभार ग्रहण किया है। इस अवसर पर उन्होने अधिकारियों-कर्मचारियों को लगन से काम करने के लिए निर्देशित किया है। कार्य एवं आचरण में लापरवाही एवं शिथिलता पाये जाने पर उन्होने जेई तिलकराज उपाध्याय को निलम्बित करने का निर्देश दिया तथा कर वसूली का लक्ष्य रू0 1.08 करोड़ से बढाकर रू0 1.50 करोड़ कर दिया है। उन्होने निर्देश दिया कि वसूली के लिए अभियान चलाकर लक्ष्य को पूरा करें। उन्होने निर्देश दिया कि बकायेदारों को नाटिस जारी करें, आरसी भी जारी किया जाय। सभी कर्मचारी प्रत्येक दिन प्रातः 08.00 बजे से क्षेत्र में निकले तथा दिनभर की वसूली की रिपोर्ट शाम को अपर मुख्य अधिकारी को प्रस्तुत करेंगे। उन्होने जिला पंचायत के पेड़ों की गिनती शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया है। चतुर्थ राज्य वित्त आयोग से प्राप्त लगभग 12.50 करोड़ रूपये  से निर्माण कराये गये कार्यो की समीक्षा में उन्होने निर्देश दिया कि सभी 66 कार्य का सत्यापन सहायक अभियन्ता तथा अवर अभियन्ता तीन दिन में करके फोटो सहित रिपोर्ट प्रस्तुत करें। काम के अनुसार एम0बी0 तैयार कराये। इस्टीमेट के अनुसार काम पूरा होने की रिपोर्ट संलग्न करेंगे।पंचम वित्त आयोग से कुल 6.29 करोड़ रूपया प्राप्त हुआ है। इसमें अनुबंध के बाद वर्कआडर जारी कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि तीन दिन के भीतर सभी कार्य शुरू कराये। एई और सभी जेई का व्हाट्सएप ग्रुप बनाये, जिसमें वे प्रतिदिन की फील्ड विजिट की फोटो अपलोड करेंगे।उन्होने कहा कि जिला पंचायत के सभी निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण ढंग से कराये जाय। इसमें किसी प्रकार की शिथितला क्षम्य नही होंगी। परसम्पत्तियों का रख-रखाव उचित ढंग से किया जाय तथा अवैध कब्जे से मुक्त कराने की कार्यवाही की जाय। निरीक्षण के दौरान अपर मुख्य अधिकारी विकास मिश्रा, अभियन्ता अनिल कुमार श्रीवास्तव, कर अधिकारी अमित कुमार यादव, जेई रणविजय सिंह, मनीष चौधरी, वरिष्ठ सहायक निर्माण ओम प्रकाश एवं एकाउंटेण्ड संत बहादुर सिंह उपस्थित रहें। 

रिपोर्ट – कर्मचंद्र यादव बस्ती यूपी
9565237687

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here