ज़िला उन्नाव/ चलाये जा रहे अभियान के तहत थाना कोतवाली सदर पुलिस व सर्विलांस सेल द्वारा युवक की हत्या करने वाले चार अभियुक्तों को मय आला कत्ल कुल्हाड़ी व घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल बरामद कर किया गया गिरफ्तार।
दिनांक 26.11.2020 को बलराम पुत्र गनेश लोध नि0 सिन्धूपुर था कोतवाली सदर उन्नाव उम्र करीब 22 वर्ष जो बिना बताये अपने घर से कही गायब हो गया था। उपरोक्त गायब होने की सूचना पिता गनेश लोध द्वारा दिनाकं 28.11.20 को थाने पर गुमशुदगी दर्ज करायी थी। पुलिस द्वारा गुमशुदा की तलाश जारी थी कि, पिता द्वारा पुनः दिनाकं 01.12.2020 को थाना स्थानीय पर प्रा0 पत्र दिया गया कि मुझे शंका है कि मेरे लड़के को देशराज उपरोक्त ने मिलकर गायब कर दिया है। जिसपर गुमशुदगी उपरोक्त को मु0अ0सं0 784/20 धारा 364 भादवि मे तरमीम करते हुये गुमशुदा की तलाश प्रारम्भ की गयी तो गुमशुदा बलराम का शव थाना क्षेत्र अजगैन मे दिनाकं 02.12.2020 को मिला , जिसका नियमानुसार पोस्टमार्टम कराने के उपरान्त दिनाकं 03.12.2020 को नवीन मंडी के पास से मुखबिर की सूचना पर कोतवाली पुलिस द्वारा एफआईआर मे नामित अभियुक्तगण देशराज पुत्र ठाकुर प्रसाद व सुदीप उर्फ बउवा पुत्र ठाकुर प्रसाद नि0 गण सिन्धूपुर थाना कोतवाली सदर उन्नाव व देशराज के ससुर बाबूलाल पुत्र स्व0 मेडीलाल नि0 ग्राम दुन्दपुर थाना अजगैन जिला उन्नाव व देशराज के बहनोई अमित पुत्र सुरेश लोध नि0 झउवा थाना अचलगंज जिला उन्नाव को गिरफ्तार किया गया। जिनसे कड़ाई से पूछताछ की गई तो बताया कि करीब दो साल पहले देशराज की पत्नी सुनीता की बीमारी के चलते मृत्यु हो गयी थी । तब से देशराज व उसके ससुर को शंका थी कि मृतक बलराम द्वारा कुछ झाड़ फूक करवाया गया था। जिससे उसकी पत्नी की मृत्य हो गयी थी। उसी का बदला लेने के लिये अभियुक्तगणों द्वारा योजना बनाकर दिनाकं 26.11.20 को शराब पिलाने के बहाने बलराम को दुन्दपुर ले गये और वही पर शराब पिलाने के उपरान्त नशे मे होने के बाद कुल्हाड़ी से काटकर गुमशुदा बलराम की निर्मम हत्या कर दिये तथा शव को छुपाने की नियत से जंगल में फेक दिये थे । अभियुक्तों के कब्जे से घटना मे प्रयुक्त एक अदद मो0सा0 व हत्या मे प्रयुक्त कुल्हाडी को बरामद किया गया ।

रिपोर्ट मोहम्मद इरफान खान उन्नाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here