ज़िला आगरा:अनफेयर मींस कमेटी की संस्तुति करने पर परीक्षा समिति ने की कार्रवाई।तीन कॉलेज तीन साल और तीन कॉलेज एक साल के लिए किए गए हैं डिबार।नकलची पकड़े जाने वाले आठ कॉलेजों को दी गई चेतावनी।मुख्य परीक्षा में सामूहिक नकल कराने पर आगरा के डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय ने छह कॉलेजों को काली सूची (ब्लैक लिस्ट) में शामिल किया है। इनमें तीन कॉलेजों को तीन साल के लिए और इतने ही कॉलेजों को एक साल के लिए डिबार किया गया है। यह तय सत्र तक परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जाएंगे।2019-20 सत्र की मुख्य परीक्षा में नकल मिलने पर सचल दल ने 14 कॉलेजों के खिलाफ रिपोर्ट बनाकर अनफेयर मींस कमेटी (यूएफएम) को सौंपी। इसमें मौके पर मिली नकल के आधार पर कमेटी ने तीन वर्ग बनाए। इसमें तीन कॉलेजों में तो सॉल्वर और शिक्षक विद्यार्थियों को नकल करा रहे थे, इनको तीन साल के लिए काली सूची में डाला गया है। तीन कॉलेजों में परीक्षार्थियों की ओएमआर शीट एक समान मिली, मॉडल पेपर से नकल हो रही थी। इनको एक साल के लिए काली सूची में शामिल किया गया है। आठ कॉलेजों में नकलचली पकड़े गए थे, जिनको चेतावनी दी गई है। इस रिपोर्ट को परीक्षा समिति की बैठक में रखा गया, जहां पर सदस्यों ने कार्रवाई पर मुहर लगा दी।विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजीव सिंह ने बताया कि परीक्षा समिति ने मुख्य परीक्षा में सामूहिक नकल कराने वाले छह कॉलेज को काली सूची में शामिल किया है, इनको 2020-21 सत्र की परीक्षा में केंद्र नहीं बनाया जाएगा।विश्वविद्यालय के पीआरओ प्रोफेसर प्रदीप श्रीधर ने कहा कि सचल दल ने सेंटर पर सॉल्वर, मॉडल और बोल-बोलकर सामूहिक नकल कराने की रिपोर्ट दी, इस पर यूएफएम ने कार्रवाई की संस्तुति पर परीक्षा समिति ने मुहर लगा दी है। 

तीन वर्ष के लिए डिबार किए जाने वाले केंद्र। 
1- पंडित पूरनमल मेमोरियल एजुकेशन इंस्टीट्यूट, गभाना, अलीगढ़ ।
2- एपीएस कॉलेज बाजना (मथुरा)।
3. श्री श्याम दास बाबा महाविद्यालय छाता, मथुरा ।

एक वर्ष के लिए डिबार किए जाने वाले केंद्र
1- एसएस डिग्री कॉलेज शमसाबाद आगरा ।
2- श्री गोवर्धन कॉलेज, किशनी, मैनपुरी ।
3- चौधरी माधव सिंह स्मारक महाविद्यालय, मैनपुरी ।

रिपोर्टर अमित कौशिक
आज का अपराध न्यूज़
मंडल प्रभारी आगरा,ज़िला मैनपुरी।
9359816032

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here