उतरौला (बलरामपुर):नगर क्षेत्र की सड़कों पर गुरुवार को वैदिक ऋचाएं गूंजी। आर्यसमाज के वार्षिकोत्सव के दौरान निकाली गई शोभायात्रा में आर्य विद्वानों व विदुषी ने वेदमंत्रों के साथ विश्व के कल्याण की कामना के साथ मंत्रोच्चार किया। सामाजिक कुरीतियों को दूर करने, नशा मुक्त समाज की स्थापना करने, संपूर्ण विश्व को आर्य बनने का संदेश देते हुए आर्यसमाज के बच्चों ने जागरूक कार्यक्रम भी किया। आठ मार्च से चल रहे आत्मरक्षा शिविर के प्रतिभागी बच्चों ने शोभायात्रा में दंड चालन विधा का प्रदर्शन किया। चार दिनों तक चलने वाले वार्षिकोत्सव में प्रतिदिन हवन-यज्ञ के बाद अलग-अलग विषयों पर सम्मेलनों का आयोजन किया जाएगा। 11 मार्च को आर्य सिद्धांत सम्मेलन, 12 मार्च को धर्म रक्षा सम्मेलन, 13 को महिला सम्मेलन व 14 को राष्ट्र रक्षा एवं युवा सम्मेलन विषयों पर विद्वान-विदुषियों के प्रवचन का आयोजन दो सत्रों में किया जाएगा। कार्यक्रम में दिल्ली के कुलदीप भास्कर, पानीपत की नीलम शास्त्री, लखनऊ के प्रेमचंद्र शर्मा व आचार्य विमल समेत बहराइच के ठाकुर प्रसाद आर्य शामिल होंगे।

ब्यूरो संतोष गुप्ता जिला बलरामपुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here