Home Blog Page 2

उन्नाव पुलिस ने पत्रकार को पीटा…………

ज़िला उन्नाव/एक तरफ जहां सरकार और सरकार का आलाकमान लगातार निर्देश जारी कर रहा है की पुलिस पत्रकारों और आपात सेवाओं में लगे व्यक्तियों के साथ किसी भी तरह का दुर्व्यवहार न किया जाए। साथ ही पत्रकारों को हर तरह से सहयोग करने के निर्देश भी जारी कर रही है, उसके विपरीत उन्नाव पुलिस की हरकते लगातार जुल्म की हदे पार करती जा रही हैं।
इसी क्रम में आज उन्नाव शहर के सबसे पुराने हिन्दी दैनिक समाचार पत्र दैनिक उन्नाव टाईम्स के सम्पादक श्री अरविंद शुक्ल को पुलिस कर्मियों ने उनके निवास/ कार्यालय के बाहर तब पीटा जब वो मोहल्ले में किये जा रहे सेनेटाइज की कवरिंग करके खड़े ही हुए थे कि तभी पुलिस की गाड़ी आकर रुकी।
तो श्री शुक्ल द्वारा अपना परिचय देने पर पुलिस कर्मियों द्वारा *तेरी संपादक की ऐसी की तैसी और भद्दी भद्दी गाली देते हुए लाठियां बरसाने लगी।
श्री अरविंद शुक्ल को पुलिस ने इतनी बेरहमी से पीटा है की उनका सर फट गया और उनका इलाज जिला चिकित्सालय में किया जा रहा है।जब घटना की जानकारी सीओ सिटी को दी गई तो उन्होंने मौका ए वारदात पर आने की बात कही लेकिन अभी तक कोई भी जिम्मेदार अधिकारी नहीं आया और न ही घटना को संज्ञान में लिया।

विजय बहादुर सिंह व इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव।

8 से 3 खुलेंगी दवा की दुकानें औषधि निरीक्षक अजय कुमार संतोषी

उन्नाव। जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुमार के निर्देशन में 3/4/2020 को औषधि निरीक्षक अजय कुमार संतोषी ने बताया कि शासन से प्राप्त निर्देशों के अनुसार थोक व फुटकर दवा की दुकानों का समय सुबह 8:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक किया जा रहा है। यह व्यवस्था जिला अस्पताल के सामने स्थापित मेडिकल स्टोरों पर विशेष रूप से लागू होगी।औषधि निरीक्षक ने बताया कि लाकडाउन के दौरान लोग अनावश्यक रूप से दवाओं के बहाने घर से निकल कर मेडिकल स्टोरों के आसपास भीड़ एकत्रित कर रहे हैं जिसके चलते लाकडाउन के नियमों का पालन नहीं हो पा रहा है। जिस कारण ये निर्देश दिए गए हैं कि थोक और फुटकर प्रतिष्ठान अपनी दुकान सुबह 8:00 से दोपहर 3:00 बजे तक खोलेंगे और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दवाओं की बिक्री करेंगे। इसके बाद होम डिलीवरी के लिए चिन्हित किए गए मेडिकल स्टोरों द्वारा जरूरतमंदों को उनकी आवश्यकता अनुसार फोन आने पर दवाओं की उपलब्धता घर पर कराई जाएगी। उक्त निर्देश का पालन न करने पर संबंधित के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। औषधि निरीक्षक अजय कुमार संतोषी ने कहा कि कोई भी मेडिकल स्टोर संचालक मास्क और सैनेटाइजर की बिक्री मुल्य से अधिक दामों पर न करें अन्यथा शिकायत मिलने पर सख्त कार्यवाही होगी।

विजय बहादुर सिंह के साथ इरफान खान

लॉकडाउन का पालन न करने वालों को सबक सिखाएगी पुलिस,भूलकर भी न करें ये गलती

उन्नाव- लॉकडाउन का मजाक उड़ाने वालों से अब पुलिस बेहद सख्ती से निपटेगी। सड़कों पर सन्नाटे के बाद मोहल्लों में जमघट लगाने वालों से अब पीआरवी के जवान सख्ती से निपटेंगे। एसपी के निर्देश पर बुधवार को पीआरवी जवानों ने गलियों में भ्रमण किया। इस दौरान जो भी सड़क पर नजर आया उसे दौड़ाया गया।
एसपी ने झुंड बनाकर घर या गलियों के बाहर खड़े होने वालों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए पुलिस लॉकडाउन के अनुपालन की लगातार अपील कर रही है। इसके बाद भी सड़क व गली-मोहल्लों में लोग जमघट लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं।कंट्रोल रूम पर इस तरह की कई सूचनाएं आने के बाद एसपी विक्रांतवीर ने सभी डायल 112 पर तैनात जवानों को गलियों में भ्रमण कर ऐसे लोगों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए। बुधवार को पीआरवी बाइक व चौपहिया वाहन से पुलिस कर्मियों ने शहर के मोहल्ला आदर्श नगर, हिरन नगर, इंदिरा नगर, पीडी नगर, गदनखेड़ा व एबी नगर की गलियों में कई चक्कर लगाए।इस दौरान जो मिला उसे डंडा पटककर खदेड़ा गया और हवालात में डालने तक की हिदायत दी गई। अजगैन के नवाबगंज क्षेत्र में भी पीआरवी जवानों ने बेवजह गलियों में घूम रहे लोगों को डंडा पटककर खदेड़ा। वहीं, लॉकडाउन के अनुपालन में एसपी ने जाजमऊ,सोहरामऊ समेत अन्य जिले की सीमा में लगे बैरियर का निरीक्षण कर तैनात पुलिस कर्मियों को लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन कराने का निर्देश दिया।

रिपोर्ट विजय बहादुर के साथ मोहम्मद इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव

केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन मैनपुरी ने किया सेनेटाइजर व् मास्क का जिले के पुलिस प्रसाशन व् पत्रकार बंधुओं को किया वितरण

जिला मैनपुरी में मैनपुरी केमिस्ट एसोसियशन दुवारा कोरोनावायरस कोविड-19 महामारी के चलते आज दिनांक 3 मार्च 2020 को केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के सभी पदाधिकारियों द्वारा संपूर्ण जिले के पुलिस प्रशासन और प्रशासनिक अधिकारियों व पत्रकार बंधुओं को सैनिटाइजर और मास्क जगह-जगह पहुंचकर वितरित किए।केमिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों में सौरभ चौहान,विनय गांधी,राजेश कुमार गुप्ता,विशाल चौहान,और सचिन कमल गुप्ता रानू आदि मौजूद रहे।

रिपोर्टर डॉ गिरीश शाक्य
आज का अपराध न्यूज़
जिला ब्यूरो चीफ मैनपुरी
8077638288

पल्लव चैरिटेबल वेलफेयर सोसायटी द्वारा जरूरत मंदों को खाद्य सामिग्री वितरण

लखनऊ/पल्लव चैरिटेबल वेलफेयर सोसायटी जन-जन कल्याण के लिए कार्य करती आ रही हैं।सोसायटी कीअध्यक्ष गीताजंली सिंह के द्वारा गरीब मजदूर,विधवा, जरूरत मंद के लिए छोटी सी मदद है। सोसायटी कीअध्यक्ष एंव सचिव सुनील कुमार करोना महामारी लाकडाउन के चलते उन परिवार को राशन की सेवा दी गई,
जो परिवार परेशान है।पल्लव चैरिटेबल वेलफेयर सोसायटी द्वारा लगातार चौथे दिन जरुरत मदों लोगों को (आटा, चावल, नमक, आलू, तेल)खाद्य सा मिग्री वितरित कर मदद की। साथ ही रामनवमी के अवसर पर गरीब कन्याऔ को हलुवा,चना,पूड़ी माँ दुर्गा का भोग देकर स्वस्थ समाज की प्रार्थना की।

आज का अपराध न्यूज़
रिपोर्ट शादाब खान
लखीमपुर खीरी

उपजिलाधिकारी बांगरमऊ क्षेत्राधिकारी बांगरमऊ अधिशासी अधिकारी बांगरमऊ द्वारा नगर के सस्ते गल्ले की दुकानों पर किया आकस्मिक निरीक्षण

उन्नाव/विगत दिनों उप जिलाधिकारी बाँगरमऊ/क्षेत्राधिकारी बाँगरमऊ तथा अधिशासी अधिकारी मीनू सिंह द्वारा सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।अधिशासी अधिकारी मीनू सिंह द्वारा नगर के सब्जी विक्रेताओं तथा सस्ते गल्ले की दुकानों का निरीक्षण कर उनको आवश्यक दिशा निर्देश दिए तथा सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन किए जाने के लिए भी सभी दुकानदारों से कहा।

रिपोर्ट विजय बहादुर के साथ मोहम्मद इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव

नगर पालिका अध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी बांगरमऊ ने सफाई कर्मचारियों को किया सम्मानित

उन्नाव/बांगरमऊ आज नगर पालिका परिषद बांगरमऊ में नगर पालिका अध्यक्ष इजहार खान गुड्डू अधिशासी अधिकारी मीनू सिंह पूर्व जिला अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी श्रीकांत कटियार पूर्व नगर अध्यक्ष राकेश गुप्ता दोसर वैश्य के नगर अध्यक्ष विकास गुप्ता गिरीश पटेल आदि के द्वारा लिपिक रविंद्र कुमार सफाई नायक मुकेश सुनील सुरेंद्र कुमार यादव नौशाद खान चंद्रप्रकाश संजय पंकज पटेल प्रियंका कटियार संदीप आर्यन ग्रुप बांगरमऊ अरविंद राहुल संजय केतन गुप्ता अनूप कुमार नदीम आलम को अंग वस्त्र एवं पुष्पगुछ देकर सम्मान करते हुए उत्साह वर्धन किया गया और उनके द्वारा किए गए कार्यों की प्रशंसा की गई नोबेल क्रोना वायरस महामारी के चलते नगर में लाक डाउन होने के बावजूद सफाई कर्मचारियों द्वारा हर समय सफाई कार्य में निष्ठा एवं लगन और मेहनत से कार्य किया जा रहा है इस पर नगर पालिका अध्यक्ष तथा पूर्व जिला अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी श्रीकांत कटियार द्वारा इन सभी कर्मचारियों की भूरि भूरि प्रशंसा की गई और भविष्य में इसी मेहनत और लगन से कार्य करने की लिए उत्साहित किया गया उक्त कार्यक्रम में सभासद आनंद सिंह रघुवंशी खलील अहमद मोहम्मद अरशद आफाक अहमद हाफिज इसरार खान सहित सभी सभासद गणों का नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा अंग वस्त्र देकर सम्मान किया गया।

रिपोर्ट विजय बहादुर के साथ मोहम्मद इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव

दबंग कोटेदार व उसका भाई छीन रहे है गरीबो के मुंह का निवाला

उन्नाव/मामला जनपद उन्नाव के ब्लाक सिकंदरपुर सरोसी के ग्राम बौनामऊ से है जहां पर दबंग कोटेदार व उसका भाई छीन रहे है गरीबों के मुंह से निवाला!गरीब व अनपढ़ लोगों का अगूठा लगवा लेते हैं और बाद में राशन देने से मना करते हैं जनता के पूछने पर दबंग कोटेदार व उसका भाई जातिसूचक शब्दों से गालियां देता है मारपीट पर आमदा हो जाता हैं कोटेदार जगत पाल सिंह व उसका भाई बीरपाल सिंह दबंग प्रकार के हैं और कहते हैं कि प्रशासन से लेकर ऊपर तक मेरा जुगाड़ है कुछ नहीं कर पाओगे तुम मेरा

रिपोट विजयबहादुर सिहं के साथ मों इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव

शरीर के रोंगटे खडे़ कर देंने वाली घटना। पेड़ से दुपट्टे के सहारे लटकता हुआ मिला एक लड़की का शव

महराजगंज के थाना व ग्राम सभा परसा मलिक की एक घटना सामने आयी है जहां पेंड़ पर दुपट्टे के सहारे लटकती हुई एक लड़की दिखायी दी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रेखा सहानी पुत्री प्रहलाद सहानी ग्राम सभा परसा मलिक,थाना परसा मलिक की निवासीनी थी जिसका उम्र उन्नीस वर्ष था जो बागिचे में पेंड़ से दुपट्टे के सहारे लटकती हुई दिखी जिसको कुछ गांव के लोगों द्वारा सुबह पांच बजे देखा गया और शोर मचाया गया वहीं जब इसकी सूचना परिजनों को मिला तो उनका कहना है कि भोर में घर से शौच के लिए निकली थी तो कैसे यह हाल हुआ हम लोगों को इसकी कुछ जानकारी नहीं है देखते -देखते काफी भीड़ इकठ्ठा हो गयी जिसकी सूचना परसा मलिक थाना प्रभारी वीजय नरायन को दे दी गयी जो मौकै पर पहुंच कर लाश को कब्जे में ले लिये और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए महाराजगंज भेज दिए मामला संदिग्ध दिखायी दे रहा है खबर लिखे जाने तक इसकी पुष्टि नहीं हो पायी थी कि इसकी मृत्यु क्यो और कैसे हुआ है।आइए दिखाते हैं पेड़ से लटकता एक दृश्य।

आज का अपराध न्यूज ब्यूरो महराजगंज से रामसागर मिश्र ।मो07518408770

भारी पुलिस फोर्स की तैनाती में हुआ अंतिम संस्कार अंतिम इच्छा रह गई अधूरी

लखीमपुर-खीरी।मैगलगंज थाना क्षेत्र की चौकी औरंगाबाद के गांव फरिया पिपरिया मे सिपाही की मार से शुब्द रोशन लाल आत्महत्या मामले में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले किया गया लेकिन परिजनों ने जब तक मुकदमा दर्ज नहीं होगा तब तक शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया लेकिन रात भर मान मनोबल और तरह तरह का दबाव बनाने के बाद आखिर दूसरे दिन परिजनों ने नम आंखों से रोशन लाल का अंतिम संस्कार किया तीन थानों की पुलिस मौके पर मौजूद रही पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया और कोरोना पर जारी सरकार की गाइडलाइन को ताक पर रखा गया।
नहीं दिखा कोई दलितों का मसीहा उच्च अधिकारियों ने भी मोड़ा मुंह।
अभी कुछ दिनों पहले ही ऐसा मामला लखीमपुर में देखने को मिला था मूल रूप से मऊ जिला स्थित थाना घोसी के गांव हाजीपुर के कोमल प्रसाद गौतम का बेटा त्रिवेंद्र कुमार ग्राम विकास अधिकारी के पद पर तैनात था त्रिवेंद्र लखीमपुर के मोहल्ला शिव सागर कॉलोनी में रहते थे त्रिवेंद्र ने आत्महत्या करते हुए अपने सुसाइड नोट में किसान यूनियन पार्टी के अध्यक्ष और प्रधान को दोषी ठहराया था प्रशासन ने तुरंत देरी ना करते हुए इस मामले में संबंधित किसान नेता सहित कई लोगों पर गंभीर आरोपों में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करके मिसाल कायम की थी किसान नेता की गिरफ्तारी ना होने पर जल्द ही इनामिया तक घोषित कर दिया गया था अगर लेकिन यह मामला बिल्कुल अलग है इसमें आरोप लगाने वाला एक गरीब मजदूर दलित युवक है और प्रशासन के ही कारिंदे पर आरोप लगाया गया है आखिर प्रशासन अपने ही सिपाही पर कैसे कार्रवाई कर सकता है इसलिए कुछ छूट भैया नेताओं को हर तरीके से मैनेज करने की खुली छूट देकर ऑडियो में किए गए सिपाही पर कार्रवाई के निवेदन को भी ताक पर रखा गया।

दलितों के लिए आवाज उठाने वाले नेता इस गरीब दलित के साथ क्यों नहीं

त्रिवेंद्र आत्महत्या कांड पर जमकर राजनीति करने वाले कुछ दलित नेताओं ने आखिर मैगलगंज थाना क्षेत्र के फरिया पिपरिया गांव के दलित मजदूर युवक रोशन लाल के मामले को क्यों संज्ञान नहीं लिया क्या वह दलित नहीं था या यह दलित नेता कद और पद देखकर राजनीति करते हैं किसी भी दलित नेता और दलितों के नाम पर राजनीति करने वाले संगठनों की नजर आखिर 3 दिन से चल रहे इस ड्रामे पर क्यों नहीं पड़ी या फिर इस मामले में कोई लाभ नहीं भारी पुलिस फोर्स की तैनाती में हुआ अंतिम संस्कार अंतिम इच्छा रह गई अधूरी

मैगलगंज थाना क्षेत्र की चौकी औरंगाबाद के गांव फरिया पिपरिया मैं सिपाही की मार से शब्द रोशन लाल आत्महत्या मामले में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले किया गया लेकिन परिजनों ने जब तक मुकदमा दर्ज नहीं होगा तब तक शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया लेकिन रात भर मान मनोबल और तरह तरह का दबाव बनाने के बाद आखिर दूसरे दिन परिजनों ने नम आंखों से रोशन लाल का अंतिम संस्कार किया तीन थानों की पुलिस मौके पर मौजूद रही पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया और कोरोना पर जारी सरकार की गाइडलाइन को ताक पर रखा गया

नहीं दिखा कोई दलितों का मसीहा उच्च अधिकारियों ने भी मोड़ा मुंह

अभी कुछ दिनों पहले ही ऐसा मामला लखीमपुर में देखने को मिला था मूल रूप से मऊ जिला स्थित थाना घोसी के गांव हाजीपुर के कोमल प्रसाद गौतम का बेटा त्रिवेंद्र कुमार ग्राम विकास अधिकारी के पद पर तैनात था त्रिवेंद्र लखीमपुर के मोहल्ला शिव सागर कॉलोनी में रहते थे त्रिवेंद्र ने आत्महत्या करते हुए अपने सुसाइड नोट में किसान यूनियन पार्टी के अध्यक्ष और प्रधान को दोषी ठहराया था प्रशासन ने तुरंत देरी ना करते हुए इस मामले में संबंधित किसान नेता सहित कई लोगों पर गंभीर आरोपों में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करके मिसाल कायम की थी किसान नेता की गिरफ्तारी ना होने पर जल्द ही इनामिया तक घोषित कर दिया गया था अगर लेकिन यह मामला बिल्कुल अलग है इसमें आरोप लगाने वाला एक गरीब मजदूर दलित युवक है और प्रशासन के ही कारिंदे पर आरोप लगाया गया है आखिर प्रशासन अपने ही सिपाही पर कैसे कार्रवाई कर सकता है इसलिए कुछ छूट भैया नेताओं को हर तरीके से मैनेज करने की खुली छूट देकर ऑडियो में किए गए सिपाही पर कार्रवाई के निवेदन को भी ताक पर रखा गया

दलितों के लिए आवाज उठाने वाले नेता इस गरीब दलित के साथ क्यों नहीं

त्रिवेंद्र आत्महत्या कांड पर जमकर राजनीति करने वाले कुछ दलित नेताओं ने आखिर मैगलगंज थाना क्षेत्र के फरिया पिपरिया गांव के दलित मजदूर युवक रोशन लाल के मामले को क्यों संज्ञान नहीं लिया क्या वह दलित नहीं था या यह दलित नेता कद और पद देखकर राजनीति करते हैं किसी भी दलित नेता और दलितों के नाम पर राजनीति करने वाले संगठनों की नजर आखिर 3 दिन से चल रहे इस ड्रामे पर क्यों नहीं पड़ी या फिर इस मामले में कोई लाभ नहीं दिखाई पड़ रहा है या फिर चुनाव नजदीक नहीं है नहीं तो रोशन लाल को न्याय जरूर मिला होता। रोशन लाल को न्याय जरूर मिला होता।इस बाबत में जब प्रभारी निरीक्षक मैगलगंज चन्द्रकान्त सिंह से उनके पक्ष की जानकारी चाही गई तो उन्होंने बताया कि एस.पी. खीरी ने जो मीडिया को प्रेस रिलीज दी है वही सत्य है।डाकडाउन के प्रभावी अनुपालन के लिए सख्ती की गयी थी।

नूरुद्दीन इंडिया हैड आज का अपराध न्यूज़ लखीमपुर खीरी 📲9140111179=9415519094

Must Read

- Advertisement -