उन्नाव/आज जब पूरा देश कोरोना जैसी भयानक वैश्विक महामारी से जंग लड़ रहा है ऐसे में पत्रकार समाज भी अपनी जान की परवाह किये बिना आप तक कोरोना से जुड़ी हर छोटी बड़ी खबर पहुंचाने में लगातार डटा है लेकिन सरकार को शायद उनकी और उनके परिवार की कोई फिक्र नहीं है
लेकिन इन सब के बीच पत्रकारों के हित मे एक बुलंद आवाज साहित्यिक नगरी जिला उन्नाव से एक तेज तर्रार अधिवक्ता संजीव त्रिवेदी ने उठायी है अधिवक्ता ने पत्रकारों के लिये चिंता जताते हुये कहा है कि जब हम सब कोरोना जैसे कैंसर के डर से घरों मे कैद हो गये तब हम पत्रकारों के बदौलत ही जान पा रहे हमारे गांव से लेकर शहर तक शहर से लेकर पूरे देश मे कोरोना महामारी की क्या स्थिति है,पल पल पर हम TV खोलकर सिर्फ और सिर्फ न्यूज़ पर ही आश्रित होकर रह गये हैं आज पत्रकार अपनी जान जोखिम में डालकर कोरोना हॉटस्पॉट जैसी जगह पर जाकर हमें वहाँ की हर ग्राउंड रिपोर्ट देने में लगे है जिससे पूरे देश मे सैकड़ों की संख्या में पत्रकार कोरोना की चपेट में भी आ गये है लेकिन फिर भी हार नहीं मान रहे है ऐसे में सरकार को पत्रकारों और उनके परिवार के जीवन के लिये एक बार जरूर गंभीरता से सोचना चाहिये अधिवक्ता संजीव त्रिवेदी ने इसी मुद्दे पर गंभीर चिंता जताते हुये सरकार से देश के हर एक पत्रकार और हॉकर्स के लिये 50 लाख रुपये का जीवन बीमा की मांग करते हुये कोरोना वारियर्स की तरह ही पत्रकारों को भी कोरोना वारियर्स का दर्जा दिये जाने की भी मांग की है।
अधिवक्ता ने इस गंभीर मुद्दे को देश के PM नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ को ट्वीट भी किया है

रिपोर्ट विजय बहादुर सिंह के साथ मोहम्मद इरफान खान बांगरमऊ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here