महराजगंज जिले के कोल्हुई थाना के पुलिस द्वारा चोरी की घटना के खुलासे को लेकर क्षेत्र में तरह तरह के चर्चाओं का बाजार गर्म है ।जानकारी के लिए बता दे विगत दिनों पूर्व कोल्हुई कस्बे में लोटन रोड पर स्थित दयाशंकर चतुर्वेदी के मकान में जब उनका पूरा परिवार किसी मांगलिक कार्यक्रम में गया था ,तभी रात में चोरों ने उनके घर के बाहर का ताला तोड़कर घर में भीषण लूटपाट किया था , अगली सुबह जब परिवार के सदस्य पहुंचे तो हालात देख होश उड़ गए ,मामले में दयाशंकर चतुर्वेदी द्वारा कोल्हुई थाने में तहरीर दिया गया था ,जिसके बाद मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच में जुटी कोल्हुई बाजार की पुलिस लेकिन अब तक सटीक खुलासा करने में निष्क्रिय दिख रही। जबकि कोल्हुई कस्बे से 19/12/2020 की मध्यरात्रि को कस्बे के सोनारी गली में छापेमारी कर एक युवक नूर आलम उर्फ राज पुत्र अलीहसन को

पुलिस ने पकडा था जिसकी खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था। बताते चले उक्त प्रकरण में चार दिन से ज्यादा बीत जाने के बाद कोल्हुई पुलिस द्वारा एक प्रेस नोट जारी कर चोरी के मामले का खुलासा कर, वाहवाही लूटी जा रही है,जिससे कस्बे में पुलिस द्वारा खुलासे को लेकर चर्चाओं का बाज़ार गर्म है । बता दे पुलिस द्वारा जारी प्रेस नोट में चोरी के मामले में तीन अभियुक्त की गिरफ्तारी दिखाई गई है ,जिसमें एक नूरआलम उर्फ राज पुत्र अलीहसन तथा दूसरा मोइन अंसारी उर्फ टिंकल जिनको पुलिस द्वारा 22/12/2020 को कोल्हुई के पॉवर हाउस के पीछे मकान में संदिग्ध परिस्थिति में धीरे धीरे बात करते वक़्त उनको पकड़ा गया है ,जबकि नूर आलम उर्फ राज पुत्र अलीहसन को पुलिस ने 19/20 की मध्यरात्रि को उनके घर से सोते वक़्त छापेमारी कर पकड़ा था जिसकी खबर को प्रमुखता से तमाम समाचार पत्रों द्वारा प्रकाशित भी किया गया था ।जबकि विश्वसनीय सूत्रों द्वारा पता चला है कि दूसरे युवक मोइन अंसारी उर्फ ट्विंकल को पुलिस ने कोल्हुई के मेन चौराहे से उठाया था । इन दोनों अभियुक्तों के पास से पुलिस द्वारा एक के पास से 4500 रूपए व दूसरे के पास से 5500 रूपए व 12 बोर का तमंचा व दो जिंदा कारतूस दिखाया गया है ,जबकि अभी तीसरा फरार चल रहा है। दयाशंकर चतुर्वेदी के मकान से भीषण चोरी हुई थी मकान मालिक द्वारा तहरीर में बताया गया था कि कुल एक लाख बीस हजार नगद व कीमती जेवरात की चोरी हुई है।जबकि पुलिस द्वारा चोरी के खुलासे में एक भी आभूषण की बरामदगी नहीं की गई है ,जिससे कोल्हुई पुलिस पर चोरी के मामले में खुलासे को लेकर क्षेत्र में तरह तरह का चर्चा का विषय बना हुआ है। फिलहाल चोरी के मामले में पुलिस खुलासा करके वाहवाही लूट रही है । लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जब कोल्हुई पुलिस द्वारा 19 तारीख के मध्यरात्रि में नूर आलम उर्फ राज को उसके घर से छापेमारी कर पकड़ा गया था तो गिरफ्तारी 22 तारीख को पॉवर हाउस के पीछे क्यों दिखाया गया है ।,जो जांच का विषय है । जबकि देखा जाए तो कोल्हुई के पॉवर हाउस के पीछे कोई मकान ही नहीं है ,।उक्त मामले में खुलासे को लेकर पुलिस द्वारा अभी तक कोई भी जेवरात की बरामदगी नहीं की गयी है जिससे ये पता चले कि ये वही चोर है जो उस रात दयाशंकर चतुर्वेदी के घर मे चोरी की वारदात में शामिल थे ।बड़ा सवाल यह भी है। कि क्या कोल्हुई पुलिस गुडवर्क के चक्कर में ऐसे ही बिना तथ्य और सबूत के मामले का खुलासा कर वाहवाही लूटना चाह रही है ।उक्त प्रकरण में अब देखना है। कि जिले के आला अधिकारीयों द्वारा मामले को कितना गंभीरता से लिया जा रहा है। जिससे चोरी का मामला खुलासा हो सके।

आज का अपराध न्यूज ब्यूरो प्रमुख महराजगंज से रामसागर मिश्र की खास रिपोर्ट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here