BJP के राज में देश भक्ति को चंद शब्दों और नारों से माता जाने लगा है सोशल मीडिया पर बैठी भगवा ब्रिगेड का काम यही है कि वह दिनभर ये निगरानी करें कि कौन देशभक्त है और कौन नहीं। कल पूरे देश में आजादी दिवस मनाया गया सुबह-सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले पर तिरंगा झंडा फहरा कर जनता को संबोधित किया देश के 72 में स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी पार्टी की उपलब्धियों के बारे में जमकर तारीफें की गौरतलब है कि आजादी दिवस पर ये संबोधन पीएम मोदी के कार्यकाल का आखिरी संबोधन था। वही अब खबर सामने आ रही है कि बीजेपी के नेता आई पी सिंह ने आजादी दिवस पर अपने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर दिल्ली की जामा मस्जिद में तिरंगा फहराया। इस मामले में मस्जिद के इमाम द्वारा बीजेपी नेता और उनके कार्यकर्ताओं को ऐसा करने से रोका गया।

लेकिन उन्होंने जबरदस्ती जामा मस्जिद पर तिरंगा फहराया और अपनी दबंगई साबित करते हुए सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर इस पूरे कृत्य की वीडियो भी डाली है। जो कि सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो चुकी है इसके बाद बीजेपी नेता आरपी सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा है। जामा मस्जिद पर ठोकाठोकी के बावजूद भी हमने प्रांगण में तिरंगा फहरा दिया है। मस्जिद के शाही इमाम पहले विरोध कर रहे थे। फिर अचानक पता नहीं कहां गायब हो गए जो कि एक बहुत बड़ा सवाल है। लेकिन हमें देश में तिरंगा फहराने के लिए किसी भी तरह की अनुमति की जरूरत नहीं है। आज मैंने जामा मस्जिद पर ध्वजारोहण किया रोके जाने के बावजूद। “#MyFlagMYFaith.”

इसके साथ किए गए एक अन्य ट्वीट में बीजेपी नेता की दबंगई साफ तौर पर जाहिर हो रही है। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि 71 साल बाद जामा मस्जिद की छाती पर चढ़कर हमने अपने कार्यकर्ताओं के साथ तिरंगा फहराया। वंदे मातरम आपको बता दें कि तिरंगा फहराने के साथ-साथ बीजेपी नेताओं ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ यहां पर भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे भी लगाए हैं। इस मामले में सोशल मीडिया पर मौजूद लोग बीजेपी नेता पर देश का सांप्रदायिक माहौल खराब करने के आरोप लगाते हुए उनके इस कृत्य की काफी आलोचना कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here