पीलीभीत/यूपी के जनपद पीलीभीत मे महिला द्वारा अपने दो मासूम बच्चों के साथ नहर में छलांग लगाने के मामले में दूसरे दिन पुलिस ने पिता की तहरीर पर पति समेत चार लोगों पर दहेज हत्या की एफआईआर दर्ज की है। महिला और छोटे बेटे का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं गोताखोरों की मदद से निगोही ब्रान्च नहर मे संडई हाल्ट से दूसरे बेटे की तलाश की जाती रही, मगर उसका दूसरे दिन भी पता नहीं लगा जबकि ग्रामीणों एव पुलिस द्वारा दियोरिया क्षेत्र तक बङे बेटे का सुराग लगाने की कोशिश की गयी
सोमवार शाम करीब चार बजे माधोटांडा थाना क्षेत्र के बिजुलहा गांव निवासी सरनजीत कौर (28) पत्नी दलजीत सिंह ने अपने दो बच्चे जीवनजोत (5) और अमृत सिंह (3) को साथ लेकर पीलीभीत-पूरनपुर रेलखंड पर संडई हाल्ट के पास पहुंचकर निगोही ब्रांच नहर में छलांग लगा दी थी। घटनास्थल से करीब 700 मीटर दूरी पर नहर से देर शाम सरनजीत और छोटे बेटे अमृत सिंह का शव बरामद हुआ था। इस मामले में पुलिस ने दूसरे दिन मंगलवार को दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं मंगलवार को भी गोताखोंरों की मदद से बड़े बेटे जीवनजोत की तलाश की गई, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला।उधर,महिला के पिता बराही गांव निवासी जगराज सिंह ने बेटी के पति समेत ससुराल वालों पर दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी। पिता ने आरोप लगाया कि दहेज में एक लाख रुपये और कार की मांग पूरी न होने पर ससुराल वालों ने सरनजीत और उसके दो बच्चों की नहर में डुबोकर हत्या कर दी।
इंस्पेक्टर शहरोज अनवर ने बताया कि पिता की तहरीर पर पति दलजीत सिंह, सास बलजिंदर कौर, ससुर बलदेव सिंह और जेठ बलजीत सिंह पर दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। मासूम जीवनजोत की तलाश के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। नहर के किनारे बसने वाले ग्रामीणों को जीवनजोत के नहर मे डूबने की सूचना दे दी गयी है।

रिपोर्ट—वीरेंद्र सिंह जनपद पीलीभीत ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here