क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो कि देश के बच्चे से लेकर बड़ों के बीच काफी लोकप्रिय रहता है। जहां छोटे-छोटे गली-मोहल्लों में बच्चे हाथ में बैठ लिए खुद को सचिन तेंदुलकर से कम नहीं समझते। वही दोस्तों के बीच अक्सर क्रिकेट को लेकर जोरों-शोरों पर बहस चल निकलती है। देश में ऐसे कई क्रिकेटर हुए हैं जो कि इस दुनिया को अलविदा कहे जाने के बाद भी काफी लोकप्रिय हैं। क्रिकेट का मामला यूं है कि लोग किसे ज्यादा पसंद करते हैं। इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता क्योंकि जहां मैच जीतने पर लोग क्रिकेटरों को सर आंखों पर बिठाते हैं। वही छोटी सी गलती के लिए उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल भी कर दिया जाता है।

अब जो खबर हम आपको बताने जा रहे हैं। वह क्रिकेट प्रेमियों को सदमे में डाल सकता है। खबर सामने आई है कि देश के धुरंधर क्रिकेटर और टेस्ट सीरीज में भारत को पहली जीत दिलाने वाले पूर्व क्रिकेटर कप्तान अजीत वाडेकर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। बताया जा रहा है कि अजीत वाडेकर बीते लंबे समय से काफी बीमार चल रहे थे और 70 वर्ष की उम्र में उनका कल रात निधन हो गया है। इस दुख की घड़ी में देश के प्रधानमंत्री मोदी ने परिवार को सांत्वना देते हुए सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर ट्वीट किया है PM मोदी ने कहा है कि अजीत वाडेकर को भारतीय क्रिकेट में उनके महान योगदान के लिए हमेशा याद किया जाएगा। वह भारत के महान बल्लेबाज थे और टीम इंडिया के शानदार कप्तान थे।

जिन्होंने हमारी टीम को क्रिकेट के इतिहास की कुछ सबसे यादगार जीत दिलाई। वह प्रभावी क्रिकेट प्रशासक भी थे। उनके जाने का दुख है।आपको बता दें कि अजीत वाडेकर बाएं हाथ के बल्लेबाज और प्रभावी फील्डर थे। क्रिकेट में उनका अंतरराष्ट्रीय करियर करीबन 8 साल तक रहा। सबसे खास बात यह है कि वह अब तक भारतीय क्रिकेट टीम के ऐसे कप्तान रह चुके हैं। जिनकी अगुवाई में भारत ने 3 सीरीज में जीत हासिल की है। इसी कारण से वाडेकर की गिनती भारत के सफल कप्तानों में की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here