लखीमपुर खीरी।माध्यमिक शिक्षा विभाग की 71 वीं जनपदीय माध्यमिक विद्यालयीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का रंगारंग कार्यक्रम के साथ गुरूवार को राजकीय इण्टर कालेज लखीमपुर के क्रीडागंन में शुभारम्भ हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने विधिवत घोषणा कर प्रतियोगिता का शुंभारम्भ किया। क्रीडा प्रतियोगिता के उद्घाटन के अवसर जिलाधिकारी ने मार्च पास्ट की सलामी ली तथा संमरगी गुब्बारों एवं कबूतरों को उड़ाकर शांति का संदेश दिया। जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि इस आयोजन में प्रतिभाग करने वाले बच्चें विशेष प्रतिभावान और सौभाग्यशाली है, जिनकों इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि खेलों से बच्चों का पूर्ण शारीरिक व मानसिक विकास होता है। कहा कि हर क्षेत्र के लिए अच्छी प्रतिस्पर्धा खेल का मैदान ही सीखता है। विजयी होने पर अभिमान नही आना चाहिए और हारने पर अपने प्रतिद्वंदी के विरूद्ध ईष्या का भाव भी नही आनी चाहिए। विजयी होने से ज्यादा अपनी जीत को बरकरार रखता महत्वपूर्ण होता है।उन्होनें कहा कि लम्बे अरसे के बाद इस प्रतियोगिता का आने का अवसर प्राप्त हुआ है। बचपन के पलों को याद करके डीएम भावुक हो उठे। उन्होंने प्रतिभागियों से अपील की कि अनुशासित ढंग से खेल भावना के साथ प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया जाये तो अधिक आंनद आता है। विभिन्न स्कूलों के बच्चों द्वारा स्वागत गीत तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये। प्रतियोगिताओं का समापन 12 अक्टूबर को होगा। कार्यक्रम का सफल संचालन आर्यकन्या इण्टर कालेज की शिक्षिक सुश्री क्षमा टण्डन ने किया।इस अवसर पर जिला विद्यालय निरीक्षक डाॅ0 आरके जायसवाल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बुद्धप्रिय सिंह, जिला प्रोबेशन अधिकारी संजय निगम, अपर जिला सूचना अधिकारी विपिन कुमार, कार्यक्रम संयोजक/गुरूनानक इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य इशविन्दर सिंह, सह संयोजक/प्रधानाचार्य जीआईसी धौरहरा विनोद कुमार, कुलवंत सिंह चीमा, माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष अरविन्द वर्मा, प्रधानाचार्य परिषद के जिलाध्यक्ष अनुज कुमार वर्मा, प्रधानाचार्य जीआईसी आरके आर्य, जिले के समस्त प्रधानाचार्य एवं प्रधानाचार्या एवं प्रशिक्षक, क्रीडा प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने आये खिलाड़ी मौजूद रहे।

आज का अपराध न्यूज़
रिपोर्ट :नूरुद्दीन गौरी
लखीमपुर खीरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here