ज़िला उन्नाव/ दिनांक 05.01.2021 समय करीब 06 बजे शाम रिलायन्स पेट्रोल पम्प थाना क्षेत्र अजगैन के पास लखनऊ की तरफ से आ रही आई- 20 गाड़ी सं0 UP 60 AM 8281 जिसमें हिमांशू पाल पुत्र छेदी लाल पाल निवासी एच/एस-13 कृष्णा पुरम थाना चकेरी कानपुर नगर व उनके मित्र प्रतीक सिंह पुत्र परशुराम सिंह एवं आशीष सिंह पुत्र मिथलेश सिंह निवासी गण 61/01 हूलागंज थाना हरवंशमोहाल कानपुर नगर एवं दुर्गेश यादव पुत्र जगरूप यादव निवासी 89/सी0 दहेली सुजानपुर थाना चकेरी कानपुर नगर बैठे थे। दुर्गेश यादव द्वारा पेशाब करने के बहाने गाड़ी रूकवाई गयी। तभी पीछे से एक आर्टिगा गाड़ी नं0 UP 78 FJ 8793 गाड़ी के आगे आकर रूकी तथा उसमें से तीन- चार लोग नकाब पहने उतरकर असलहा दिखाकर जबरदस्ती हिमांशू पाल को गाड़ी से खींचकर अपनी गाड़ी में डाल लिया तथा दुर्गेश यादव को भी अपनी गाड़ी में डालकर गाड़ी लेकर भाग गये । इस घटना की सूचना राहगीरों से प्राप्त होने पर अपहृत की बरामदगी व अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु प्रयास किये गये , तभी प्रतीक सिंह की सूचना पर हिमांशू पाल के पिता ने थाने आकर घटना की तहरीर देकर थाना अजगैन पर मु0अ0सं0 06/21 धारा 364A IPC बनाम अज्ञात पंजीकृत कराया तथा बताया कि मेरे लड़के की जान के बदले मुल्जिमान 15 लाख रूपये की मांग कर रहे है। मांग न पूरी होने पर मेरे लड़के की हत्या कर देंगे । वस्तुस्थिति से उच्चाधिकारी गणों के अवगत कराते हुये सर्विलॉस व स्वॉट टीम से सहयोग की मांग कर पतारसी सुरागरसी अपहृत व अभियुक्त तेज की गयी । थाना अजगैन व सर्विलॉस व स्वॉट टीम द्वारा पतारसी सुरागरसी करते हुये ग्राम तौरा थाना क्षेत्र पुरवा के जंगल से अपहृत हिमांशू पाल उपरोक्त जिसके दोनो हाथ कपड़े से बंधे थे तथा मुँह में कपड़ा ठूँसा था सकुशल बरामद करते हुये अभियुक्तगण 1. अभय प्रताप सिंह परिहार उर्फ रामजीत व 2. दुर्गेश उर्फ नवीन यादव, 3. शान मोहम्मद उर्फ शानू, 4. शान मोहम्मद उर्फ बक्ताबर, 5. गोलू उर्फ रंग बहादुर सिंह निम्नवत को एक अदद लाइसेंसी रिवाल्वर 32 बोर ,पांच जिन्दा कारतूस 32 बोर व एक अदद अवैध तमंचा 12 बोर व 2 अदद जिन्दा कारतूस 12 बोर व घटना में प्रयुक्त वाहन UP78 FJ8793 के साथ गिरफ्तार किया गया । अभियुक्तगण ने पूछताछ पर बताया कि हम लोगों को जानकारी हुई कि हिमांशु पाल के पास काफी पैसा है। इसकी पत्नी भी नौकरी करती है। तब हम पांचो व्यक्तियों ने योजना बनाई कि किसी तरह से हिमांशु पाल को पकड़कर उसके घर वालों से अच्छा पैसा वसूला जाये। इसी योजना के तहत दुर्गेश यादव, हिमांशु पाल व उनके मित्र के साथ लखनऊ गया तथा उसका लोकेशन हम लोगों को मोबाइल पर देता रहा लखनऊ जाते समय ही हम लोग उसके पीछे लगे थे लेकिन उसे पकड़ने का मौका नहीं लगा। तब हिमांशु पाल के वापस आते समय रिलायंस पैट्रोल पम्प थाना क्षेत्र अजगैन के पास दुर्गेश यादव पेशाब करने का बहाना करके गाड़ी रूकवायी, तभी हम चारों लोग आर्टिगा गाड़ी से आकर उसकी गाड़ी के आगे गाड़ी लगाकर हिमांशुपाल को उसकी गाड़ी से जबरदस्ती रिवाल्वर दिखाकर खीचकर अपनी गाड़ी में डाल दिया तथा किसी को शक न हो इसलिए दुर्गेश यादव को भी अपनी गाड़ी में बैठा लिया । फिर हम लोग गाड़ी लेकर भाग लिये तथा पुलिस के डर के मारे कुछ दूर आगे चलकर बायी तरफ एक रास्ते पर मुड़कर काफी दूर चले गये तथा हिमांशुपाल के मित्र प्रतीक सिंह व पिता से हिमांशु पाल की जान के बदले 15 लाख रूपये की मांग करने लगे । काफी प्रयास के बाद भी पैसे की मांग पूरी न होने पर हम लोग वहां से वापस आकर पुरवा रोड़ की तरफ तेज रफतार में आये कुछ दूर चलने पर बायी तरफ जंगल दिखाई देने पर जंगल की तरफ जा रहे रास्ते की तरफ हम लोगों ने गाड़ी मोड दी तथा थोड़ी दूर चलकर गाड़ी किनारे लगाकर हम पांचो हिमांशुपाल को जिसका दोनों हाथ कपड़े से बाध दिया था व मुंह में कपड़ा ठूँस दिया था गाड़ी से उतार कर जंगल में ले आये थे कि अगर पैसे की मांग पूरी नहीं होगी तो हम लोग इसकी हत्या कर शव को इसी जंगल में छिपाकर चले जायेंगे ।अभियुक्त गण के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है ।

आज का अपराध न्यूज़।
इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here