लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी 16 जनवरी को दिल्ली से कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण का अभियान का शुभारंभ करेंगे। कोरोना वैक्सीन लांच करने के बाद देश भर में आज से टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो जाएगी। वहीं उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में 825 की जगह 311 केंद्रों पर वैक्सीनेशन होगी।लखनऊ में इन स्थानों पर 51 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को लगेगा टीका।लखनऊ में अब 16 की जगह 11 केंद्रों पर वैक्सीनेशन हैं। लखनऊ में बलरामपुर हॉस्पिटल, सिविल हॉस्पिटल, अवंति बाई हॉस्पिटल में भी वैक्सीनेशन होगा। इसके अलावा केजीएमयू, पीजीआई, लोहिया संस्थान , सीएचसी मॉल, मलीहाबाद, चिनहट, इन्दिरा नगर, सहारा हॉस्पिटल, मेदांता और एरा में भी वैक्सीनेशन होगा। लखनऊ में 51 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगना है। लखनऊ में तीन दिन में टीका लगेगा। 16 जनवरी के बाद फिर सोमवार शुक्रवार और फिर सोमवार को टीका लगेगा।प्रत्येक केंद्र पर 100-100 को लगेगा टीका
लखनऊ में 21 कोल्ड चेन प्वाइंट, 62 केंद्र और 200 बूथ बनाये गए हैं। 16 जनवरी को 11 जगहों पर 100-100 लोगों को टीका लगेगा। पीएम मोदी झांसी और बनारस के लोगों से ऑनलाइन जुड़ेंगे। इस दौरान वो लोगों से सवाल जवाब भी करेंगे। वहीं लखनऊ के लोगों को भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करेंगे। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक लगेगा टीका
यूपी के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया, ’16 जनवरी से राज्य के सभी 75 जिलों के 311 केंद्रों में टीकाकरण को आयोजित किया जाएगा। यह सुबह नौ बजे से शुरू होकर शाम के पांच बजे तक चलेगा।’ राज्य को वैक्सीन की 10.75 लाख खुराकें मिली हैं और ये सभी जिलों में भेज दी गई हैं।
इन्हें लगेगा सबसे पहले टीका।

उन्होंने आगे कहा कि टीका लगाने के दौरान सभी निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। वैक्सीन लगाए जाने वालों को प्रशिक्षण दिए जा चुके हैं और कोल्ड चेन की व्यवस्था भी कर ली गई है। स्वास्थ्य सेवा कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कस को सबसे पहले प्राथमिकता दी जाएगी। राज्य सरकार ने सभी से सतर्क रहने और वायरस के खिलाफ सावधानी बरतने की बात कही है।

पहले चरण में प्रदेश में 4.85 करोड़ लोगों को लगाए जाएंगे टीके
पहले चरण में प्रदेश में 4.85 करोड़ लोगों को टीके लगाए जाएंगे। सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि पहले चरण में निजी और सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ का वैक्सीनेशन किया जाएगा और दूसरे चरण में नगर निगम, सशस्त्र बलों और पुलिस के कर्मचारियों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। तीसरे चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन दिया जाएगा।

सभी निजी और सरकारी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ का विवरण एकत्र
स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. डी.एस. नेगी ने कहा, “सभी निजी और सरकारी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ का विवरण एकत्र किया गया है और उन्हें वैक्सीन देने के बाद लोगों को वैक्सीन देने वाले स्वास्थ्य कार्यकतार्ओं की पहचान की जाएगी।

इरफान खान यूपी हेड उन्नाव।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here