पूर्व एनसीसी कैडेटो और युवाओं ने भर्ती में मांगी दो साल की छूट
कोरोनाकाल में उम्र के दो वर्ष बीत जाने व भर्ती न होने पर उठाया सवाल
पूर्व कैडेट ने राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री व रक्षामंत्री को सम्बोधित ज्ञापन भेजा गया ।
लखनऊ। कोरोनाकाल के करीब दो सालों में सेना में भर्ती न होने और एनसीसी कैडेट की दो वर्ष आयु निकल जाने मामले में पूर्व एनसीसी कैडेट अपने भविष्य को लेकर बेहद चिंतित हैं। भर्ती मामले को लेकर सोमवार को हमराह सैनिक छात्र सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंकित शुक्ला के नेतृत्व में हमराह एक्स कैडेट एनसीसी सेवा संस्थान के कई सदस्यों ने भर्ती मामले में राष्ट्रपति ,प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या के अलावा कानून मन्त्री वृजेश पाठक व जिला अधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन भेजा है।
ज्ञापन सौंपने के बाद लखनऊ जिलाधिकारी ने पूर्व एनसीसी कैडेटों व युवाओं को आश्वासनसन देते हुए कहा कि हम भी इस कार्य में लगे हैं कि जल्द से जल्द भर्ती शुरू किया जायेगा । उन्होंने ये भी आश्वासन दिया कि 15 दिन के अंदर ऑनलाइन फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू करायी जायेगी। वहीं पूर्व एनसीसी कैडेटों व युवाओं का कहना है कि जब स्पोर्ट और रिलेशन भर्ती और चुनाव के प्रचार प्रसार व यात्राएं सम्मेलन चल रहे हैं तो सेना में भर्ती आखिर क्यों नहीं हो सकती है। ऐसे में हम एनसीसी कैडेटों व युवाओं का मनोबल टूट रहा ।
पूर्व कैडेटों का कहना है कि देश की रक्षा करने के लिए जो शपथ एनसीसी प्रशिक्षण के दौरान हम सभी लोगों ने ली थी, लगता है कि सपने अधूरे रह जायेंगे। हमराह सैनिक छात्र सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंकित शुक्ला ने कैडैटों के हक में आवाज उठाते हुए कहा कि पूर्व एनसीसी कैडेटों व युवाओं को भर्ती में 2 वर्ष उम्र छूट दी जाये और 2021 दिसंबर तक भर्ती कराई जाये। अभी तक एनसीसी कैडेटों की मांग पर ध्यान नहीं दिया गया इसलिए पुर्व एनसीसी कैडेट व यूवाओ का जथा लखनऊ से दिल्ली तक 22/9/2021 क़ कूच करके अपनी हक को पाने के लिए मजबूत कदम उठायेंगे। जो दिल्ली रेलवे स्टेशन से संसद भवन तक मार्च करेंगे हमराह सैनिक छात्र सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंकित शुक्ला ने कहा कि जब तक भर्ती की प्रक्रिया नहीं शुरू होगी तब तक हम खामोश नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि कुछ एनसीसी कैडेट कोरोना काल में भर्ती न होने से ओवर ऐज हो चुके हैं। संक्रमण के दौरान कैडेट ने आर्थिक स्थिति से भी जंग लड़ी। अपने सपनों को पंख देने के लिए कैडेट लगातर शारीरिक अभ्यास में भी जूटे रहे। अब अगर उन्हें भर्ती से वंचित होना पड़ा तो उनका जीवन अंधकार में डूब जायेगा। अंकित शुक्ला ने कहा कि पूर्व में कई एनसीसी कैडेट व युवाओं ने मौत को गले लगा लिया। वहीं अन्य कैडेटों को मनोबल गिरता हुआ नजर आ रहा है।
हमाराह कैडैट एनसीसी सेवा संस्थान के हमराह सैनिक छात्र सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंकित शुक्ला ने सरकार से मांग उठायी है कि हमारे ज्ञापन को जल्द से जल्द संज्ञान में लेकर भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जानी चाहिए।
वहीं हामराह एक्स कैडेट एनसीसी के संस्थापक अजीत सिंह ने कहा कि सेना हमारे साथ भेद भाव कर रही है। अगर भर्ती नहीं करनी थी तो कोई भी भर्तियां न करते। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि रिलेशन भर्ती के तहत सेना ने अपने परिवार के लोगों को नौकरी दे रही है। जिला अधिकारी व कानून मंत्री बृजेश पाठक को ज्ञापन सौपंने के मौके पर शेखर तिवारी, आकाश त्रिपाठी, आयुष सिंह, अनीस, शिवम मौजूद रहे।

भवदीव
अजीत सिंह बागी
संस्थापक हमराह एक्स एनसीसी कैडेट सेवा संस्थान उत्तर प्रदेश भारत

आज का अपराध न्यूज़
रिपोर्ट शादाब खान
लखनऊ मंडल प्रभारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here