पीलीभीत जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभियन्ता रियाज अहमद उपस्थित पाए गए। जिलाधिकारी द्वारा उपस्थिति रजिस्टर निरीक्षण के दौरान 04 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए अनुपस्थित कर्मचारियों में वरिष्ठ सहायक श्रीमती कुसुम लता पाण्डे, वरिष्ठ सहायक पवन कुमार, कनिष्ठ सहायक अभिलाष सिंह यादव व चपरासी श्रीमती सुमित्रा का 01-01 दिन का वेतन नो वर्क नो पे के आधार पर काटने के निर्देश दिए गए। निरीक्षण के दौरान कार्यालय परिसर का हैण्डपम्प खराब पाया गया जिसे तत्काल ठीक कराने के निर्देश दिए गए। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा स्टोररूम, रिकॉर्ड रूम व बैठक हॉल सहित उपस्थित पटल सहायकों के कार्यों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान स्टोर व रिकॉर्ड रूम में अनावश्यक निष्प्रयोज्य सामग्री का निस्तारण कराते हुए साफ सफाई कराने के निर्देश दिए गए तथा टूटी कुर्सी व मेजों को ठीक कराकर सही ढ़ंग से लगाने के निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा कि कार्यालय अनावश्यक सामग्री किसी भी दशा में न रखी जाये तथा कार्यालय की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाये। पटल सहायकों के कार्यों के निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभियन्ता द्वारा अवगत कराया गया कि कार्यालय में 14 जेई कार्यरत हैं, जिसमें 06 विकासखण्ड स्तर पर व 04 पी0एम0एस0वाई के अनुरक्षण कार्य में व 04 कार्यालय के कार्यों में लगाए गये है। इस दौरान निर्देशित किया गया कि ब्लाक स्तर पर कार्यरत जेई की उपस्थिति सम्बन्धित खण्डविकास अधिकारी के निर्देंशन में दर्ज करने हेतु पत्र प्रेषित किया जाये तथा अधिशासी अभियन्ता को इनकी नियमित बैठक करने के निर्देश दिये गये। वरिष्ठ सहायक श्री रामनिवास द्वारा किये गये कार्यों की समीक्षा के दौरान खमरिया पुल के पास किये गये कार्य अप्रैल में पूर्ण होने के उपरान्त भी भुगतान न किये जाने पर असंतोष व्यक्त करते हुये सम्बन्धित अवर अभियन्ता श्री विनीत कुमार अग्रवाल को 02 दिन में अपना स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया। जिलाधिकारी द्वारा कार्यालय में निष्प्रयोज्य खड़ी गाड़ियों के बारे में जानकारी पूछे जाने पर अधिशासी अभियन्ता द्वारा अवगत कराया गया कि उक्त गाड़ियां विकास भवन कार्यालय की है इस संबंध में जिलाधिकारी द्वारा सीडीओ को पत्र प्रेषित कर तत्काल निस्तारण कराने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होंने कार्यालय की टूटी बाउण्ड्रीवाल को ठीक कराने व विकास भवन की ओर जाने वाले रास्ते पर एक अन्य गेट लगाने के निर्देश दिए गए। इस दौरान अधिशासी अभियन्ता को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि जो भी कार्य पूर्ण कर लिए गये हैं उनसे सम्बन्धित कोई भी भुगतान लम्बित न रहे तथा कराये जा रहे कार्यों व उनकी प्रगति के सम्बन्ध में रिपोर्ट प्रेषित करने हेतु निर्देशित किया गया।
निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण रियाज अहमद सहित अन्य अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

रि. योगेश गुप्ता आज का अपराध व्यूरोचीफ जनपद पीलीभीत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here