ग्राम धारऊ मैं हुआ शान्ति ज्ञान यज्ञ

जिला मैंनपुरी ।शहर के निकटवर्ती ग्राम धारउ में स्व देशराज शाक्य के आवास पर हुए शान्ति ज्ञान यज्ञ मैं रज्जो देवी कबीर आश्रम के महंत अमर साहेब ने बताया की कर्तव्य रूपी वृक्ष पर अधिकार रूपी फल लगते हैं इसलिए हर मनुष्य को अच्छे कर्म करते हुए अपने जीवन को धन्य बनाने का प्रयास करना चाहिए।
उन्होंने बताया कि यह संसार वृहद जेल है जेल में कैदी हथकड़ी में रहता है जबकि जेलर जब चाहे तब जेल के भीतर बाहर आता जाता है। वासना की जंजीर से दूर रहना चाहिये। भक्ति का बीज कभी गलता सड़ता नहीं है ,भक्ति की महिमा के समान कुछ नहीं है ,जीवन क्षणभंगुर है ,मौत सबकी आती है इसलिए सत्कर्म करो शरीर रूपी मकान की कोई गारंटी नहीं होती है कब बुलावा आ जाए और जाना पड़े ।अभिमान ने देवताओं को भी नष्ट किया है, मरने के बाद इंसान एक सुई तक नहीं ले जा सकता क्योंकि कफन में जेब नहीं होती है। मनुष्य वही है जो मनुष्य के लिए मरे उन्होंने बताया कि पशु का बच्चा कभी रोते रोते जन्म नहीं लेता है नहीं वह रोते रोते मरता है, ना ही वह बुरे काम करता है ,नहीं घूसखोरी करता है, नहीं मिलावट बाजी करता है।नही झूठ फरेब करता हैं।इसलिएअच्छे कर्म करके समाज मैं अपनी छाप छोड़ने वाले व्यक्ति हमारे बीच नहीं रहता लेकिन उसकी यादें बनी रहती हैं इसलिए हमें ऐसे कर्म करने चाहिए कि लोग ना रहने के बाद भी याद करें। महन्त बताते हैं इस संसार में जो आया है उसकी मौत जरूरी है।
शान्ति ज्ञान यज्ञ में विधादास साहेब, आत्माराम दास ,महेंद्र दास, हरिओम दास, सुभाष दास, राजेंद्र दास, सत्य प्रकाश शाक्य, डॉ पंकज शाक्य, गीता शाक्य,डॉक्टर शिशुपाल शाक्य, डॉ हेमलता शाक्य ,उमाशंकर शाक्य, महाराज सिंह शाक्य, डॉअवनीश शाक्य, संतोष शाक्य,रघुराज सिंह मौजूद रहे।

रिपोर्टर
डॉ गिरीश शाक्य
आज का अपराध न्यूज़
जिला ब्यूरो चीफ मैनपुरी
8077638288

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here