बालू खनन माफियाओं के निशाने पर मासूम बच्चे*

“स्थानीय चौकी की पुलिस बनी मूक दर्शक खनन माफियाओं के इरादे मजबूत”

बताते चलें विकास खण्ड नौतनवा अंतर्गत खोरिया इन दिनों बालू खनन माफियाओं के कारनामों से मशहूर है जहां से रात के अंधेरे तो दूर दिनदहाड़े बालू खनन का अवैध कारोबार किया जा रहा है जिसमें क्षेत्रीय नाबालिक मासूम बच्चों को निशाना बनाकर उनसे बालू की ढेर बनाने का जिम्मा दिया जा रहा है जिससे एकत्रित ढेर को एक निर्धारित समय पर ट्राली के माध्यम से लादकर ठिकाने लगाए जाने का कारोबार इन दिनों सुर्खियों में है।
सूत्रों द्वारा जानकारी प्राप्त हुआ कि अवैध बालू खनन के कारोबार में स्थानीय पुलिस चौकी मूकदर्शक बनी बैठी है। बालू खनन माफियाओं में पुलिस प्रशासन का कोई भी डर व दहशत नहीं है तो वहीं दूसरी तरफ राजस्व टीम अपने कर्तव्य पर मुस्तैद है जिसमें हल्का लेखपाल अनुराग कुमार, को अपने कर्तव्य का पालन करते हुए देखा गया। बीते गुरुवार पूर्वाहन क्षेत्र भ्रमण के दौरान ग्राम सभा खोरिया क्षेत्र के स्थानीय मासूम नाबालिक बच्चों से अवैध बालू खनन कारोबार में कार्य लिया जा रहा है ऐसे में मौके पर हल्का लेखपाल ने नाबालिक बच्चों से पूछताछ किया तो एक बहुत बड़े रैकेट का खुलासा हुआ जिसमें कहीं न कहीं स्थानीय पुलिस चौकी के लापरवाही की संज्ञानता दर्शित हुई। इस संबंध में हल्का लेखपाल अनुराग कुमार, ने बताया बच्चों के हालात को देखने के पश्चात सर्वप्रथम उन्हें जलपान कराने के बाद बच्चों को कड़ी चेतावनी के बाद छोड़ दिया गया अतएव किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई। आइए दिखाते हैं एक दृश्य।

आज का अपराध न्यूज ब्यूरो प्रमुख महराजगंज से रामसागर मिश्र की खास रिपोर्ट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here