बालिका की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत,मुकदमा दर्ज।
लखीमपुर-खीरी थाना कोतवाली फूलबेहड़ के अंतर्गत गाँव में एक नाबालिक कक्षा 9 की छात्रा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई मृतका की मां ने गांव के ही परिवार के लोगो पर रस्सी से गला दबाकर हत्या किये जाने का आरोप लगाया है, घटना की सूचना पर पहुंची फूलबेहड़ पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है, सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार मृतका के साथ रेप की घटना की रिपोर्ट 2 अक्टूबर 2018 को थाना फूलबेहड़ में दर्ज हुई थी जिसमें मृतका का मेडिकल परीक्षण भी कराया गया था पुलिस मामले की विवेचना कर रही थी वहीं मृतका की मां द्वारा पुलिस पर आरोपी रज्जन को गिरफ्तार करने का दबाव बनाया जा रहा था इसके लिए कई प्रार्थना पत्र पुलिस अधीक्षक खीरी को भी दिए थे जिसमें आरोप लगाया गया था कि आरोपी किसी समय हमारे परिवार की हत्या कर सकता हैं लेकिन मेडिकल परीक्षण में रेप की पुष्टि न होने के बाद विवेचना जारी थी इसकी जानकारी मृतका की मां को होने से आहत थी और दिनांक 24-10-2018 को मृतका की मां द्वारा पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया था जिसमें उन्होंने अपनी बेटी की हत्या किये जाने की आशंका जताई थी और दिनांक 25-10-2018 को समय लगभग 11:00 बजे उसकी लाश उसी के घर के अंदर पड़ी मिली मृतका की मां ने बताया कि वह अपने स्कूल तेतारपुर पश्चिम स्थित प्राथमिक विद्यालय में शिक्षण कार्य करने गई थी, विद्यालय से परीक्षा देकर वह लगभग 10:30 बजे अपने घर वापस आ गई थी वहां घर के पीछे दरवाजे की कुण्डी खोलकर गाँव के ही सुरेन्द्र ने उसकी लड़की की रस्सी से गला घोटकर हत्या कर दी। वहीं ग्रामीणों की जुबानी माने तो मृतका की माँ ने गत दो माह पूर्व दो लोगों के विरुद्ध बलात्कार का झूठा मुकदमा लिखवाने का प्रयास किया था और पैसा लेकर सुलह समझौता भी कर चुकी है जिसके शपथपत्रो की छायाप्रतिया साछ्य के लिए काफी है, मृतका की माँ से गाँव के ही एक दूसरी जाति के मनोहर लाल शर्मा से अरसे से अवैध सम्बन्ध चल रहे थे। जिसका विरोध पूरे परिवार ने किया था जिससे मृतका की माँ परिवार वालो पर काफी खिन्न रहती थी और एक बार परिवार के ही सदस्य पर बलात्कार करने का प्रार्थना पत्र फूलबेहड़ मे दिया था और पैसा लेकर सुलह समझौता भी कर लिया था।
मृतका की माँ अक्सर गाँव से लखीमपुर आकर अपने प्रेमी से मिलती थी और स्कूटी से शहर में टहलती भी देखी गयी हैं !
फिलहाल मामला विवेचना का है घटना की वास्तविकता का खुलासा विवेचना के बाद ही होगा। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है
इस सम्बन्ध मे प्रभारी निरीक्षक कोतवाली फूलबेहड़ विधा दिवाकर ने बताया कि परिजनों दृारा मिली तहरीर के आधार पर मुकदमा अपराध संख्या 347/2018 धारा 302 आई पी सी के अंतर्गत तीन लोगो पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। विवेचना जारी है शीघ्र ही दूध का दूध पानी का पानी कर दिया जायेगा !

आज का अपराध न्यूज़
शादाब खान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here