फर्जी अप्वाइंटमेंट लेटर और फर्जी उपस्थिति रजिस्टर पर कराते रहे हस्ताक्षर
मामला बांगरमऊ नगर के श्री कृष्ण वेद वेदांग संस्कृत विद्यालय का
नरेंद्र सिंह पुत्र हरदेव बहादुर सिंह उम्र लगभग 40 वर्ष निवासी मोहल्ला पटेल नगर संडीला रोड बांगरमऊ ने 19 जून 2018 को घर में लगे पेड़ से फांसी लगा
कर ली थी आत्महत्या
वेद वेदांग संस्कृत विद्यालय के प्रधानाचार्य केशव प्रसाद अग्निहोत्री व उनके सहयोगी विरेंद्र सिंह प्रधानाचार्य संस्कृत विद्यालय देवारा कला ने नौकरी के नाम पर मृतक से लिए थे 1000000 रुपए मृतक को फर्जी अप्वाइंटमेंट लेटर व फर्जी उपस्थिति रजिस्टर पर कराते रहे हस्ताक्षर
जब मृतक को यह आभास हुआ कि उसके साथ छल किया गया है तब उसने अपने पैसे इन व्यक्तियों से मांगे तो उन्होंने कहा की जान से हाथ धो बैठोगे मृतक इसी गम में परेशान रहने लगा मृतक ने अपनी जमीन बेचकर किसी तरह
वह ₹1000000 की व्यवस्था की थी लेकिन जिले के शिक्षा माफियाओं ने डकार लिए मृतक के सारे पैसे
मृतक की पत्नी द्वारा जिलाधिकारी उन्नाव को दिए गए प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया कि उसके पति को 5 वर्ष की फर्जी उपस्थिति रजिस्टर बनाकर हस्ताक्षर करवाते रहे
जिलाधिकारी उन्नाव में जब शिक्षा विभाग को इस मामले की जांच करने को कहा तो शिक्षा विभाग ने 2 सदस्य टीम बनाकर जांच कराई जिसमें कार्यवाहक प्रधानाचार्य केशव प्रसाद अग्निहोत्री व वीरेंद्र सिंह के विरुद्ध थाना बांगरमऊ में एफ आई आर संख्या 0489/15-09-2018 मृतक की पत्नी अंजना देवी द्वारा दर्ज कराई गई जिसमें विभिन्न धाराएं419,420,467,468,471,506,306 मैं अंकित की गई
लेकिन यह विडंबना कहें कि इतना सब कुछ होने के बावजूद पीड़िता को अभी तक न्याय नहीं मिला है और अभी क्योंकि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है और अब अभियुक्तों द्वारा पीड़िता को बराबर जान से मारने की धमकी दी जा रही है

रिपोर्ट! मोहम्मद इरफान खान बांगरमऊ उन्नाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here